राजस्थान सिविल रजिस्ट्रेशन प्रणाली
राजस्थान सरकार
आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय
Rajasthan Civil Registration System
Government Of Rajasthan
Directorate of Economics and Statistics
हमारा लक्ष्य शत प्रतिशत पंजीकरण
पंजीयन जनता ओर सरकार के बीच की एक कड़ी है
बच्चे के नाम वाला जन्म प्रमाण पत्र ही पूरा है
प्रत्येक जन्म एवं मृत्यु का पंजीकरण सुनिश्चित करें
पंजीयन जनता एवं सरकार का संयुक्त प्रयास
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण आपके अपने हित में है
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण करवाना कानूनन अनिवार्य है
पहचान, आने वाले कल की, बीते पल की

जन्म और मृत्यु रजिस्ट्रीकरण अधिनियम, 1969 लागू होने के बाद देश में जन्म, मृत्यु और मृत जन्म की घटनाओं का पंजीयन अनिवार्य हो गया है। अधिनियम के अंतर्गत राज्यों में नियुक्त मुख्य रजिस्ट्रार कार्यपालक प्राधिकारी है और राज्यों में सांख्यिकी रिपोर्ट के संकलन और रजिस्ट्रीकरण के कार्य के लिये उत्तरदायी है। रजिस्ट्रीकरण के कार्य में कागजी कार्यवाही कम करने, समक अभिलेख के हस्तांतरण में तेजी लाने और प्रणाली को आधुनिक तकनीकों के प्रयोग के अनुरूप बनाने की कड़ी में आई.एस.एस.पी. परियोजना के अंतर्गत उपलब्ध वित्तीय प्रावधानों से जन्म-मृत्यु पंजीयन का यह सॉफ्‍टवेयर तैयार कराया गया है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से पंजीयन के महत्वपूर्ण प्रावधानों, प्रक्रिया, आवेदन पत्र, प्रमाण पत्रों का उपयोग एवं महत्व, जारी प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि आदि जानकारियॉ आमजन के लिए उपलब्ध हो सकेगी एवं विभिन्न तरह की रिपोर्ट एवं सूचनायें विभागीय उपयोग हेतु उपलब्ध हो सकेगी।

Hon'ble Chief Minister, Rajasthan
Smt. Vasundhara Raje
माननीया मुख्यमंत्री, राजस्थान
श्रीमती वसुन्धरा राजे

पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र गठबंधन को अटूट पहचान दिलवाये। विवाह पंजीयन अवश्य करवाये। पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र गठबंधन को अटूट पहचान दिलवाये। विवाह पंजीयन अवश्य करवाये। पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र गठबंधन को अटूट पहचान दिलवाये। विवाह पंजीयन अवश्य करवाये।


पंजीकरण कहाँ कराये


शहरी क्षेत्र

प्रत्येक नगर पालिका / नगर परिषद / नगर निगम मुख्यालय पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत कार्यालय / प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र / सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है ! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र


जानकारियाँ एवं सुझाव


नवीनतम जानकारियाँ

Repeal of Rules. 21/03/2016

PARIPATRA 12/01/2016

Regarding Pehchan 17/02/2014

आमजन से प्राप्त सुझाव

सरकार द्वारा जन्म मृत्यु विवाह पंजीयन कार्य सराहनीय है I हरीश वैष्णव , - शिवपुरा , 01/07/2017

राजस्थान सरकारक द्वारा यह एक अच्छा विकल्प हे इससे आम आदमी को अच्छा लाभ मिला हे दीपक शर्मा , - कोटा , 23/06/2017

Nice app. It is very useful Sachin kumar, - Jhunjhunu, 05/06/2017

good app ramesh jangid, - agad /lasadiya, 03/06/2017

Yery good Vishnoi Dharma Ram, - Shri Krishna Nagar, 03/06/2017

very nice Ashok patel, - Lordi panditji, 02/06/2017

जन्म म्रत्यु व विवाह का पंजीकरण खोजने का एक मात्र पोर्टल ह ravishankar sharma, - jaipur, 12/05/2017

Good app Ramshanker, - Sumerganj mandi, 12/05/2017

Very good portal jetha ram, - mewanagar, 10/05/2017

very best and use app Laxman singh, - jusriya, makrana, nagour, 07/05/2017


फोटो गैलरी



विडियो गैलरी



Visitors

8134256

Helpline (Tollfree)

18001806785

कुल पंजीकरण
जन्म:
मृत्यु:
विवाह:
..
आज के पंजीकरण
जन्म:
मृत्यु:
विवाह:
..