राजस्थान सिविल रजिस्ट्रेशन प्रणाली
राजस्थान सरकार
आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय
Rajasthan Civil Registration System
Government Of Rajasthan
Directorate of Economics and Statistics
हमारा लक्ष्य शत प्रतिशत पंजीकरण
पंजीयन जनता ओर सरकार के बीच की एक कड़ी है
बच्चे के नाम वाला जन्म प्रमाण पत्र ही पूरा है
प्रत्येक जन्म एवं मृत्यु का पंजीकरण सुनिश्चित करें
पंजीयन जनता एवं सरकार का संयुक्त प्रयास
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण आपके अपने हित में है
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण करवाना कानूनन अनिवार्य है
पहचान, आने वाले कल की, बीते पल की

जन्म और मृत्यु रजिस्ट्रीकरण अधिनियम, 1969 लागू होने के बाद देश में जन्म, मृत्यु और मृत जन्म की घटनाओं का पंजीयन अनिवार्य हो गया है। अधिनियम के अंतर्गत राज्यों में नियुक्त मुख्य रजिस्ट्रार कार्यपालक प्राधिकारी है और राज्यों में सांख्यिकी रिपोर्ट के संकलन और रजिस्ट्रीकरण के कार्य के लिये उत्तरदायी है। रजिस्ट्रीकरण के कार्य में कागजी कार्यवाही कम करने, समक अभिलेख के हस्तांतरण में तेजी लाने और प्रणाली को आधुनिक तकनीकों के प्रयोग के अनुरूप बनाने की कड़ी में आई.एस.एस.पी. परियोजना के अंतर्गत उपलब्ध वित्तीय प्रावधानों से जन्म-मृत्यु पंजीयन का यह सॉफ्‍टवेयर तैयार कराया गया है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से पंजीयन के महत्वपूर्ण प्रावधानों, प्रक्रिया, आवेदन पत्र, प्रमाण पत्रों का उपयोग एवं महत्व, जारी प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि आदि जानकारियॉ आमजन के लिए उपलब्ध हो सकेगी एवं विभिन्न तरह की रिपोर्ट एवं सूचनायें विभागीय उपयोग हेतु उपलब्ध हो सकेगी।

Hon'ble Chief Minister, Rajasthan
Smt. Vasundhara Raje
माननीया मुख्यमंत्री, राजस्थान
श्रीमती वसुन्धरा राजे

पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र


पंजीकरण कहाँ कराये


शहरी क्षेत्र

प्रत्येक नगर पालिका / नगर परिषद / नगर निगम मुख्यालय पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत कार्यालय / प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र / सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है ! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र


जानकारियाँ एवं सुझाव


नवीनतम जानकारियाँ

Regarding Pehchan 17/02/2014

आमजन से प्राप्त सुझाव

यह जरुरी हैं कि हम अपने जन्म दिन का विवरण पंचायत मे जमा करावेँ देवा जाँगिड़, - बान्ड, बाड़मेर, 28/08/2015

जन्म प्रमाण पत्र इन्द्राज ग्राम पंचायत को 6 माह तक का रजिस्ट्रेशन अधिकार होना चाहिए GOVIND RAM VISHNOI, - DHORIMANA, 27/08/2015

घर पर जन्‍म हुए बच्‍चे का क्‍या प्रक्रिया होगी रमजान गौरी , - नागौर , 27/08/2015

जन्म /म्रत्यु प्रमाण पत्र ई मित्र पर बनने से आमजन को इधर उधर भटकना नहीं पड़ेगा महेंद्र कुमार परसोया , - ढाणी पुरोहितान , 26/08/2015

इ मित्र पर ऑन लाइन की सुविधा से आमजन को बहुत फायदा होगा छोटेलाल बैरवा , - नांगल गोविन्द, दौसा , 26/08/2015

VERY NICE SOFTER VISHAN SINGH RAO , - JODHPUR, 26/08/2015

marriage certificate bhi online krwao ANUJ KUMAR VISHNOI, - B. DHANI SANCHORE, 21/08/2015

जन्म म्रत्यु प्रमाण पत्र ई मित्र पर सुविधा चालू करने से आम नागरिक को राहत मिलेगी रामनिवास परसोया, - किशनगढ़ अजमेर, 20/08/2015

समय कि बचत होगी लोग परेशान नही खिलोन श्याम मेघवाल, - कोटा, 20/08/2015

ई-मित्र पर ON LINE के लिए अच्छा हुआ धर्मेन्द्र कुमार गोदारा , - सिंगनोर झुंझुनु , 19/08/2015


फोटो गैलरी



विडियो गैलरी



Visitors

1821531

Helpline (Tollfree)

18001806785