राजस्थान सिविल रजिस्ट्रेशन प्रणाली
राजस्थान सरकार
आर्थिक एवं सांख्यिकी निदेशालय
Rajasthan Civil Registration System
Government Of Rajasthan
Directorate of Economics and Statistics
हमारा लक्ष्य शत प्रतिशत पंजीकरण
पंजीयन जनता ओर सरकार के बीच की एक कड़ी है
बच्चे के नाम वाला जन्म प्रमाण पत्र ही पूरा है
प्रत्येक जन्म एवं मृत्यु का पंजीकरण सुनिश्चित करें
पंजीयन जनता एवं सरकार का संयुक्त प्रयास
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण आपके अपने हित में है
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण करवाना कानूनन अनिवार्य है
पहचान, आने वाले कल की, बीते पल की

जन्म और मृत्यु रजिस्ट्रीकरण अधिनियम, 1969 लागू होने के बाद देश में जन्म, मृत्यु और मृत जन्म की घटनाओं का पंजीयन अनिवार्य हो गया है। अधिनियम के अंतर्गत राज्यों में नियुक्त मुख्य रजिस्ट्रार कार्यपालक प्राधिकारी है और राज्यों में सांख्यिकी रिपोर्ट के संकलन और रजिस्ट्रीकरण के कार्य के लिये उत्तरदायी है। रजिस्ट्रीकरण के कार्य में कागजी कार्यवाही कम करने, समक अभिलेख के हस्तांतरण में तेजी लाने और प्रणाली को आधुनिक तकनीकों के प्रयोग के अनुरूप बनाने की कड़ी में आई.एस.एस.पी. परियोजना के अंतर्गत उपलब्ध वित्तीय प्रावधानों से जन्म-मृत्यु पंजीयन का यह सॉफ्‍टवेयर तैयार कराया गया है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से पंजीयन के महत्वपूर्ण प्रावधानों, प्रक्रिया, आवेदन पत्र, प्रमाण पत्रों का उपयोग एवं महत्व, जारी प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि आदि जानकारियॉ आमजन के लिए उपलब्ध हो सकेगी एवं विभिन्न तरह की रिपोर्ट एवं सूचनायें विभागीय उपयोग हेतु उपलब्ध हो सकेगी।

Hon'ble Chief Minister, Rajasthan
Smt. Vasundhara Raje
माननीया मुख्यमंत्री, राजस्थान
श्रीमती वसुन्धरा राजे

पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र पहचान आने वाले कल और गुजरे पल की नन्ही सी जान की पहली पहचान जन्म प्रमाण पत्र


पंजीकरण कहाँ कराये


शहरी क्षेत्र

प्रत्येक नगर पालिका / नगर परिषद / नगर निगम मुख्यालय पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत कार्यालय / प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र / सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर जन्म - मृत्यु रजिस्ट्रार का कार्यालय स्थापित है, अतः जन्म - मृत्यु की सूचना घटना घटित होने के 21 दिन के अन्दर रजिस्ट्रार कार्यालय को देकर जन्म - मृत्यु प्रमाण पत्र निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है ! इसके लिए परिवार के मुखिया या उसके नजदीकी रिश्तेदार द्वारा प्रपत्र - 1 में जन्म की सूचना एवं प्रपत्र - 2 में मृत्यु की सूचना भरकर देनी होती है ! जन्म का रजिस्ट्रीकरण बच्चे के नाम के बिना भी करवाया जा सकता है ।

ग्रामीण क्षेत्र


जानकारियाँ एवं सुझाव


नवीनतम जानकारियाँ

Regarding Pehchan 17/02/2014

आमजन से प्राप्त सुझाव

सरकार ने नई साल के साथ आम लोगों के साथ समय की बचत का कदम हुटाया है CHUNNI LAL MEENA, - NOHAR, 04/01/2016

आमजन को सुविधा तथा समय व धन की बचत हुई है RAKESH KUMAR PAREEK, - E MITRA TIDIYASAR, 02/01/2016

very good system DEEPAK, - PUGAL, 01/01/2016

आमजन को फायदा हुआ समय और धन की बचत दि बालाजी ई-मित्र नन्दवान लूणी, - नन्दवान, 17/12/2015

यह सरकार का सराहनीय कार्य है इससे जनता को परेशानियों से छुटकारा मिला है TEJA RAM GODARA, - MITHIYAWAS, HODU, 16/12/2015

उपरजिष्ट्रार के पहचान पोर्टल पर संशोधन हेतु मीनु उपलब्ध होना चाहिये Dr. Naresh yadav, - chc tijara, 15/12/2015

सरकार को पुराने बने हुए प्रमाण पत्र ऑनलाइन करवाने का कार्य जल्द पूरा करवाना चाहिए अशोक कुमार शर्मा , - रलावता , खंडेला ,सीकर , 14/12/2015

ऑनलाइन जन्म एवं म्रत्यु प्रमाण पत्र के कारण आम जनता को परेशानियों का सामना नही करना पड़ता राजकुमार , - रलावता ,खंडेला ,सीकर , 14/12/2015

म्रत्यु का कारणों में एक्सीडेंट को भी जोड़ा जावे arun chittora, - bundi, 14/12/2015

बहुत ही अच्छा और सराहनीय क़दम आमजन को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता Bharat Shekhawat, - लूँनकरनसर , 06/12/2015


फोटो गैलरी



विडियो गैलरी



Visitors

2797961

Helpline (Tollfree)

18001806785