जन्म और मृत्यु रजिस्ट्रीकरण अधिनियम, 1969 लागू होने के बाद देश में जन्म, मृत्यु और मृत जन्म की घटनाओं का पंजीयन अनिवार्य हो गया है। अधिनियम के अंतर्गत राज्यों में नियुक्त मुख्य रजिस्ट्रार कार्यपालक प्राधिकारी है और राज्यों में सांख्यिकी रिपोर्ट के संकलन और रजिस्ट्रीकरण के कार्य के लिये उत्तरदायी है। रजिस्ट्रीकरण के कार्य में कागजी कार्यवाही कम करने, समक अभिलेख के हस्तांतरण में तेजी लाने और प्रणाली को आधुनिक तकनीकों के प्रयोग के अनुरूप बनाने की कड़ी में आई.एस.एस.पी. परियोजना के अंतर्गत उपलब्ध वित्तीय प्रावधानों से जन्म-मृत्यु पंजीयन का यह सॉफ्‍टवेयर तैयार कराया गया है। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से पंजीयन के महत्वपूर्ण प्रावधानों, प्रक्रिया, आवेदन पत्र, प्रमाण पत्रों का उपयोग एवं महत्व, जारी प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि आदि जानकारियॉ आमजन के लिए उपलब्ध हो सकेगी एवं विभिन्न तरह की रिपोर्ट एवं सूचनायें विभागीय उपयोग हेतु उपलब्ध हो सकेगी।
हमारा लक्ष्य शत प्रतिशत पंजीकरण
पंजीयन जनता ओर सरकार के बीच की एक कड़ी है
बच्चे के नाम वाला जन्म प्रमाण पत्र ही पूरा है
प्रत्येक जन्म एवं मृत्यु का पंजीकरण सुनिश्चित करें
पंजीयन जनता एवं सरकार का संयुक्त प्रयास
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण आपके अपने हित में है
जन्म-मृत्यु का पंजीकरण करवाना कानूनन अनिवार्य है
पहचान, आने वाले कल की, बीते पल की
Regarding Pehchan
NICE GREAT WONDERFUL SERVICE PANKAJ TAILOR, 23/04/2014
GOOD WORK DILEEP KUMAR PANDYA, 23/04/2014
nice work DINESH WALIYA, 11/04/2014
NICE ONE AJA RAM, 11/04/2014
THIS IS A NICE WORK JOGENDRA SINGH BHATI, 07/04/2014
online krene ke bade kitne din ke bad parnamptre prapte ho jayga govind kumar salvi, 07/04/2014
very very nice SURESH CHANDER HEDA, 02/04/2014
Best service forever C M Kajala, 26/03/2014
verry very nice servies Ramesh Parihar, 11/03/2014
verry very nice servies KISHAN SAHAY YADAV, 07/03/2014
Designed, Developed and Hosted by National Informatics Centre, Rajasthan
Nodal Officer: Joint Director(Vital), Directorate of Economics and Statistics, Rajasthan.
Helpline (Toll Free) : 18001806785 jdvital.des[at]rajasthan[dot]gov[dot]in